About


Hello!  I’m Matt and I work on urban development, governance and infrastructure mainly in India and south Asia.  I’m currently a Postdoctoral Fellow at Aga Khan University in London, where I’m working on community water in northern Pakistan.  I was earlier at LUMS in Lahore, where I’m teaching on geographies of infrastructure, trying to write and working on my Urdu/Hindostani.  Before that I was earlier at Lancaster Environment Centre doing some analysis on water in informal settlements.  A while ago now, I completed a PhD at the London School of Economics on water reforms and informality in Delhi.  I’ve been doing other bits of work on the side on a range of topics: smart cities, urbanisation and migration, forced evictions, and most recently work on transitions in Delhi’s water over the ‘long 19th century’.  I’m now based in London.


You can use the group of words (‘tag cloud’) at the right of the page to go
straight to what interests you, click on the ‘page menu’ at the top for more information on my work, or see pieces in time order by clicking on ‘सादा पानी’ (‘Saada Paanee’) top left.  You can contact me on twitter if you’d like to be in touch…

 

नमस्कार, आदाब अर्ज़, मैं मॉट हुँ, शहरी विकास, शासन व इंफ्रस्त्रकचर इंडिया अौर दकशिन एस्या में काम करता। अब मैं, आगा खान यूनिवर्सिटी लंदन में पोस्ट-डोकतोरल फेल्लो हुं, जहाँ उत्तर पाकिस्तान के पानी के सामूहिक प्रबंध के बरें में काम करता हूँ।  इस से पहले मैं लुमस लहोर पर था, जहाँ मैंने इंफ्रा जेोगरफीस सिखी, लिकना आर मेरी उरदु / हिंदोस्तानी कि बेहतारिन करनी कि कोशिश कि।  इस से फेहले लनकसतर एनविरोनमंट सेनतर में बसतीयों में अनौपचारिक पानी पार काम करता हुँ।  अभी काफ़ी दिन पहले लगता हैं की लंडन स्कूल ऑफ एकनॉमिक्स में एक पी एच डी दिल्ली का पानी के बारे में समाप्ति कर दिया हूँ|  कभी कभी इस के अलावा कुछ दूसरे काम भी कर रहा हूँ|  इस साल, दिलली के पानी उन्नीसवीं सदी में कुच काम कर लिया था।  आज काल कुच साल दिल्ली अुर लंडन रहकर के बाद मैं लाहोर पर रह रहा हूँ|
अगर ‘वर्ड क्लॉड’ (दाहिने तरफ़) का इस्टेमाल किया जाए तो कोई दिलचस्पी चीज़ सीडा चला जाए|  अगर अप्परवाले काला शब्द दबा जाए तो और जानकारी मेरा काम के बारे में मालूम सका जाए।  अगर ‘सादा पानी’ दबा जाए तो सारे अलग चीज़ समय का क्रम दिखा जाए|  संपर्क करना चाहा जाए तो मैं ट्विटर पर हूँ…


twitter | google scholar | research gate | academia | ORCID | linkedin